अफ़वाह से बचें- ग़लत न्यूज़ फैलाने वालों पर प्रशासन सख़्त, होगी करवाई

बिहार राज्य में जहाँ आज शराबबंदी को एक वर्ष पूरे हुए और इसके लिए मानव शृंखला की ऐतिहासिक झलकियाँ पूरे राज्य में दिखी वहीं दूसरी तरफ़ दुर्घटना की चंद तस्वीरें सोशल मीडिया पर ख़ास कर फ़ेस्बुक और व्हाटसअप पे वाइरल होती दिखीं।  तस्वीरों के साथ यह संदेश फैलाने की कोशिश की गई कि मानव शृंखला के लिए जा रहे बच्चों के साथ एक ज़बरदस्त दुर्घटना घटी जो कि पूरी तरह से निराधार है। जानकारी के मुताबिक़ ओ तस्वीर उत्तर प्रदेश में घटित एक दुर्घटना की है जिसे एक साज़िश के तहत बिहार के ऐतिहासिक मानव शृंखला के साथ जोड़ने की कोशिश की गई।  इस तरह की फैलती अफ़वाह को देखते हुए औरंगाबाद ज़िला के डीएम कँवल तनुज भी हैरान रह गए और उन्होंने ग़लत न्यूज़ फैलाकर लोगों को भ्रमित करने वालों के ख़िलाफ़ तुरंत करवाई करने की बात की।
तो क्या साज़िश रचने वाले शख़्स का दिल इतना बेरहम था कि मासूम बच्चों के साथ घटित तस्वीरों को राजनीति के लिए इस्तेमाल करना पड़ा?

पोर्टल के माध्यम से आप सब को आगाह करना चाहूँगा कि इस तरह के बहकावे में ना आएँ और दस्तों को भी इस तरह की हरकत करने से रोकें।

Leave a Reply