शिक्षा पदाधिकारी द्वारा दर्ज एफ आई आर के अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया

मदनपुर से अहसान अख़्तर की रिपोर्ट:

मदनपुर थाना कांड संख्या 28/16 के प्राथमिकी अभियुक्त दक्षिणी उमगा के पूर्व पंचायत सेवक अवधेश राम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। वे ढिबरा थाना के बरांडा रामपुर के रहने वाले हैं। पुलिस अवर निरीक्षक सुबोध प्रसाद ने बताया कि प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी नागेन्द्र सिंह ने मदनपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। ज्ञात हो कि प्रारंभिक विद्यालय ने नियोजित शिक्षकों के शैक्षणिक/प्रशैक्षणिक प्रमाण पत्रों की जाँच सह सत्यापन के सम्बन्ध में माननीय उच्च न्यायलय पटना के आदेश दिनांक 18-01-2016 के आलोक में निर्धारित 15-02-2016 तक सभी पंचायत/प्रखंड/नगर नियोजन इकाइयों को उनके द्वारा नियोजित शिक्षकों से सम्बंधित वांछित सभी अभिलेख विहिप प्रपत्र के साथ जिला स्तर पर गठित सत्यापन कोषांग को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था। आवश्यक अभिलेख एवम अन्य कागजात/फोल्डर नहीं कराने वाले पंचायत/प्रखंड नियोजन इकाइयों को जिला शिक्षा पदधिकारी के कर्यालय ज्ञापन 373(स्था0) दिनांक 05-02-2016 के द्वारा नोटिस जारी किया था। लेकिन नोटिस के बावजूद भी निर्धारित तिथि पर पंचायत सेवक के द्वारा फोल्डर जमा नहीं किया गया। इस सिलसिले में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने न्यायलय के आदेश को अवहेलना मानते हुए पंचायत सेवक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी। गुरुवार को पंचायत सेवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। गिरफ़्तारी में दरोगा जयबल्लभ वर्मा और सीआईएटी के जवान शामिल थे।

Leave a Reply