PATH द्वारा आयोजित बैठक में साफ सफाई को लेकर लोगों को जागरूक किया

संतोष अमन की रिपोर्ट:

हमारे ग्राम, समाज व् परिवार में 70 प्रतिशत से अधिक विमारियां हमारे हाथों की सफाई, खुद की सफाई, घर व् घर के आसपास की सफाई, नाली नालों की सफाई की लापरवाही एवम् खुले में शौच करने से होती है ।

उपरोक्त बातें अंतररास्ट्रीय गैर सरकारी संगठन PATH के प्रखंड मॉनिटर अरविन्द कुमार सिन्हा ने स्थानीय लखन मोड़ स्थित राजकीय मध्य विद्यालय खंड दो में आयोजित सामुदायिक बैठक में कही ।  

बैठक में श्री सिंहा ने बताया की खुले में शौच एक समाजिक बुराई,अभिशाप व् कोढ़ है। शौच घर में बने हुए शौचालय में ही जाना चाहिए। प्रातः काल प्रत्येक दिन स्नान करना चाहिए ।अपने नाख़ून की साफ सफाई,घर व् घर के आसपास,नाली नालों एवम् समय समय पर अपने हाथों की सफाई करनी चाहिए । ऐसा नहीं करने से कई तरह कीलाइलाज जानलेवा एवम् घातक वीमारी होती है जैसे पोलियो, डायरिया, जोंडिस, डेंगू, दिमागी बुखार, मलेरिया, चिकनगुनिया आदि। इन विमारियो से हमारे शहर, ग्राम एवम् समाज में प्रतिवर्ष हजारो बच्चे मरते है फिर भी हमलोग नहीं चेतते हैं।

श्री सिन्हा ने बताया की इनसे बचने के लिए हमे साफ सफाई एवम् स्वच्छता पर विशेष ध्यान देंना चाहिये ।रात में सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करना चाहिए। इसके पूर्व ओबरा प्रखंड के राजकीय मध्य विद्यालय कझवा ,आंगनवाड़ी केंद्र रामपुर एवम् ऊब में समुदायिक बैठक आयोजित की गयी ।

Leave a Reply