पटना फ़िल्म महोत्सव में 13 दिसंबर को दिखाई जाएगी ‘दाउदनगर: द सोल ऑफ़ कल्चरल सिटी दाउदनगर’

img-20161209-wa0001

पटना फ़िल्म महोत्सव में 13 दिसंबर को 12 बजे दिन में जिउतिया : द सोल ऑफ़ कल्चरल सिटी दाउदनगर डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म दिखायी जायेगी। बिहार राज्य फ़िल्म विकास एवं वित्त निगम लिमिटेड और कला, संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा संयुक्त रूप से पटना के रविन्द्र भवन में पटना फ़िल्म महोत्सव का आयोजन 9 से 16 दिसंबर को किया गया है। महोत्सव में प्रदर्शन हेतु फ़िल्म ज्यूरी टीम द्वारा कुल 34 फ़िल्मों का चयन किया गया है।

इस डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म के निर्देशक धर्मवीर भारती ने बताया कि फ़िल्म विकास नगर, पटना ने अक्टूबर माह में फ़िल्मकारों से फ़िल्में मंगवाई थी। मगध के दाउदनगर की लोक संस्कृति जिउतिया पर निर्मित यह 44 मिनट की फ़िल्म मगही, हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में संयक्त रूप से बनी है। फ़िल्म महोत्सव में मीडिया, फ़िल्म समीक्षकों , देश के विभिन्न जगहों से आए फ़िल्मकारों और दर्शकगण दाउदनगर की जिउतिया लोक संस्कृति को बारीकी से देखेंगे और जानेंगे।

                                                        img-20161209-wa0003img-20161209-wa0002

     ज्ञात हो कि पहली बार किसी फ़िल्म महोत्सव में मगही भाषा का जिउतिया फ़िल्म के माध्यम से प्रदर्शन होगा। फ़िल्म के निर्माण में प्रबुद्ध भारती, दाउदनगर की महत्व भूमिका रही है। फ़िल्म निर्माता धर्मवीर भारती के द्वारा जिउतिया लोक संस्कृति पर गहरे रिसर्च के साथ-साथ श्रवण संस्कृति के वाहक दाउदनगर नामक पुस्तक से भी जिउतिया लोक संस्कृति के तथ्यों को लिया गया है।

     जिउतिया : द सोल ऑफ़ कल्चरल सिटी दाउदनगर डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म रिलीज 22 सितंबर को दाउदनगर जिउतियो लोक पर्व के दौरान किया गया था। इस फ़िल्म में दाउदनगर के इतिहास को प्रभावशाली तरीके से दर्शाने के लिए धर्मवीर फ़िल्म प्रोडक्शन ने विकास कुमार चौधरी से 22 पेंटिंग बनवाकर फ़िल्माया है। इस फ़िल्म के एसोसिएट डायरेक्टर डॉली हैं, और कैमरा रणवीर कुमार ने किया है। फ़िल्म निर्माण टीम में पप्पू कुमार, संकेत कुमार सिंह, मास्टर भोलू, संजय कुमार तेजस्वी, रवि कुमार रवी, अंजन सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Leave a Reply