नोटबंदी के कारण ज़मीन रजिस्ट्री में आई कमी- गणेश कुमार

संतोष अमन की रिपोर्ट:

केंद्र सरकार द्वारा गत माह नोटबंदी का फैसला लिए जाने के बाद अब इसका असर कारोबार पर साफ पड़ता दिखाई दे रहा है। बिहार में नोटबंदी के कारण जमीन की रजिस्‍ट्री में 32 प्रतिशत की कमी आयी है। इसका असर रजिस्‍ट्री के कारोबार में जुड़े लोगों पर पड़ेगा। उनकी आमदनी कम होगी। रजिस्‍ट्री कम होने से सरकार के राजस्‍व में भी कमी आएगी। नोटबंदी के कारण अन्‍य व्‍यवसायों पर भी असर पड़ने लगा है। कई औद्योगिक प्रतिष्‍ठानों ने अपने कर्मचारियों की छंटनी शुरू कर दी है। इस कारण हजारों कर्मचारियों के समक्ष रोजी-रोटी की समस्‍या उत्‍पन्‍न हो गयी है। और तो और 500 नोट 400 में खुदरा किया जा रहा हैं। केंद्र सरकार को तत्‍काल नोटबंदी के कारण उत्‍पन्‍न स्थिति से निबटने के लिए कारगर कदम उठाना चाहिए। उक्त कथन जन अधिकार पार्टी के पखंड अध्यक्ष गणेश कुमार का कहना है।

Leave a Reply