विद्यालय की तरफ से छात्रों को ई-लाइब्रेरी और कंप्यूटर लैब की सौगात

कल दिनांक 12 नवम्बर 2016 को दाउदनगर स्थित नवज्योति शिक्षा निकेतन के प्रांगण में कंप्यूटर लैब, पुस्तकालय तथा ई-लाइब्रेरी का उद्घाटन किया गया। इस समारोह के मुख्य अतिथि दाउदनगर के बीडीओ अशोक प्रसाद के करकमलों द्वारा पुस्तकालय तथा लैब का उद्घटान किया गया जिनके साथ साथ अवकाश प्राप्त प्रधनाध्यापक सुरेंद्र कुमार, फिल्म निर्देशक धर्मवीर भारती, शिक्षक दीनू प्रसाद, एस पी सुमन तथा अलोक टंडन भी उद्घटान में शामील हुए।

बीडीओ ने संबोधन के दौरान शिक्षा के महत्व् पर जोर डालते हुए कहा कि शिक्षा हमें ज्ञानवान बनाता है और पुस्तकालय में विभिन्न प्रकार की पुस्तकों का संग्रह होता है अतः हमें पुस्तकालय अवश्य जाना चाहिए। सुरेंद्र कुमार ने विद्यालय के द्वारा की गई इस पहल की सराहना की और कहा कि शिक्षा, शिक्षक और शिक्षार्थी एक दूसरे के पूरक हैं। एस० पी० सुमन ने संबोधन के दौरान अपने जीवन से जुडी हुई एक घटना के बारे में बताया जिसमें एक बहुत ही रोचक जानकारी की प्राप्ति उन्हें मूंगफली बेचने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले कागज पर मिली। उन्होंने कहा कि पुस्तकालय के अभाव में बहुत सारी अच्छी पुस्तकों को भी मज़बूरी वस रद्दी के भाव में बेच दिया जाता है।

धर्मवीर भारती ने अपने अनुभव के बारे में बताते हुए कहा कि चाहे ओ फिल्म उद्योग ही क्यों न हो, पढ़ने और सिखने के लिए पुस्तकालय बहुत ही लाभकारी सिद्ध होता है। जिस प्रकार जीवन के हर मोड़ पर कंप्यूटर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा है उसके लिए स्कूल से ही छात्रों को कंप्यूटर के इस्तेमाल को सीखना चाहिए। ज्ञान की बात बताने के अलावा उन्होंने अपनी कला और मंच पर उपस्थिति से बच्चों का खूब मनोरंजन भी कराया। 

शहर में पहला ई-लाइब्रेरी होने के कारण छात्र बहुत ख़ुशी दिख रहे थे। विद्यालय के छात्रों तनीषा, कुणाल, ब्यूटी, नेहा, सान्या, अर्पिता, आस्था इत्यादि ने स्वागत गीत, गाना तथा नृत्य की प्रस्तुति दी। विद्यालय की तरफ से बीडीओ अशोक प्रसाद, भूतपूर्व प्रधनाध्यापक सुरेंद्र कुमार, पत्रकार उपेंद्र कश्यप, हंसपुरा के पत्रकार अभय कुमार, फिल्म निर्देशक धर्मवीर भारती, भिसीएसआरएम् के निदेशक आलोक टंडन, प्रोफेसर अवधेस सिंह, शिक्षक एस पी सुमन, दाउदनगर.इन के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर रिज़वान अख़्तर को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के संचालन की ज़िम्मेदारी मुझे दी गई थी और विद्यालय परिवार की तरफ से मुझे भी मोमेंटो दे कर सम्मानीत किया गया। 

Leave a Reply