घर के साथ साथ परिवेश को भी रखें साफ

दाऊदनगर से नित्यानंद तांती की रिपोर्ट :
दीपावली के शुभ आगमन होने से लोगों में सफ़ाई के प्रति भावना जागृत हो जाती है, लोग अपने घर  को इस तरह युद्ध स्तर पर सफ़ाई करते है की माँ लक्ष्मी का वास सबसे पहले उनहि के घर में हो। बाक़ी सफ़ाई के बाद जो लोग कचरा बाहर निकालकर शांती महसूस करते है वो ये नहीं जानते कि ये कचरा भी उनके लिए भी  बीमारियों का ख़ज़ाना है। पोर्टल के मध्यम से अपने क्षेत्र की साफ़ सफ़ाई के अव्यवस्था की ओर ध्यान दिलाना चाहते है कि जो हमारे क्षेत्र में जगह जगह पर कचरे का ढेर लगा हुआ है उस स्थान पर रखे गए कूड़ेदान से कुडे की निकासी समय से नहीं होने के कारण कचरा सड़कों पर फैलने लगता है। जिसके कारण चारों तरफ़ से बदबू आती रहती है। कुडे में अवारा पशुओं का भी  डेरा होने लगा  है। इस पर ढेर पर मक्खियाँ, मछर और कीड़े -मकोड़े भी पनप रहे है। ये कुडा उनके लिए टाएफ़ाएड, हैज़ा,दस्त, मलेरिया, डेंगू इत्यादि बीमारियों का कारण बन सकता है। उदाहरण के लिए डॉक्टर केशव प्रसाद के आगे गोला रोड., बुधू बिगहा जाने वाला रोड को आप एक बार अगर परिभ्रमण करे तो बदबू का यहसास हो जाएगा। ऐसी स्थिति क़रीब इन वार्डों (12-15-16-17) में मिल जाएगा ।यहा तक की मरे हुए कुत्ते को भी फेंक देते है जिससे अगल -बगल के लोगो को घंटों तक बदबू मे रहना पड़ता है और इसके बाद मे सूचना देने पर सफाई कर्मी ट्रक्टेर से सारे कुड़े-कचरे को ले जाते है। फ़िर वही स्थिती कूड़ा का ढेर फिर कर दिया जता है जिससे अगल बगल बदबू की ही स्थितियॉ वैसी ही बनी जाती है बुधू बिगहा -देवी मंदिर रोड की बदबूदार स्थिति भयावह है। ऐसे स्थिति में सब लोग को सफ़ाई के प्रति जागरूक  होना चाहिए।

Leave a Reply