शमशेर खाँ का रौज़ा जो अपना पहचान खो रहा है….

हमारे न्यूज़ रिपोर्टर शाहिद क्यूम की रिपोर्ट :-

दाऊदनगर तथा आसपास के इलाके में बहुत से ऐसे ख़ूबसूरत स्थान हैं जिसे हम दाउदनगर वासी भी बहुत कम जानते हैं। जिस प्रकार हमारा शहर इतिहास को दर्शाता है, कला और संस्कृती के क्षेत्र में विश्व स्तर पर हमारी पहचान दिलाता है उसी के साथ साथ हमें नवाबों की बस्ती के होने का गौरव दिलाता है। आजतक हम सब सिर्फ दाउदनगर के क़ीला की बात करते आ रहे थे मगर हमारी टीम ने अपने हेरिटेज तथा पौराणिक स्थल को उजागर करने के मंसुबो के साथ जिस प्रकार आगे बढ़ना जारी रखा है उसी श्रृंखला के अंतर्गत आज शमशेरनागर के रौज़ा की बात करते हैं।

अपने शहर दाऊदनगर से मात्र 9 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है एक पयार सा गांव जिसका नाम शमशेरनागर है। इस गाँव का नाम शमशेर ख़ाँ के नाम पर पड़ा है। इस गाँव की खासियत यह है कि यहाँ पर एक ख़ूबसूरत सा मज़ार है जिसे लोग शमशेर ख़ाँ का रौज़ा कहते हैं। इसकी कलाकृति इतनी प्यारी है कि पहली बार हमारे रिपोर्टर इस जगह पे गये तो यक़ीन ही नहीं हुआ कि इतना नयाब और ख़ूबसूरत धरोहर हमारे शहर के इतने क़रीब मौजूद है। हम सब की यह ज़िम्मेदारी बनती है कि इसकी देखरेख की जाये ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी भी इस नायाब धरोहर को इससे भी खूबसूरत बना हुआ देख सके।

One comment on “शमशेर खाँ का रौज़ा जो अपना पहचान खो रहा है….
  1. ARSH SHEIKH says:

    Oooh it such a amazing monuments…..really we are missing this
    Wnderfull place….we have to make it special……
    -$ARSH $-

Leave a Reply