दाउदनगर: जिव्तिया फिल्म का प्रोमो तैयार, जल्द ही आप देख पाएंगे

जिव्तिया पर्व पूरे विश्व में दाउदनगर को एक अलग पहचान दिलाती है। यह अनूठी संस्कृति दाउदनगर के लिए इतना खास है कि ऐसी संस्कृति दूर दूर तक तो क्या दाउदनगर के आस पास के इलाक़ों में भी देखने को नहीं मिलता। दाउदनगर के बहुत सारे बुद्धिजीयियों ने निरंतर इस अनूठी संस्कृति को दुनिया के सामने लाने का प्रयास किया चाहे ओ छोटे स्तर पर हो या बड़े स्तर पर। लेकिन इस बार जो पहल भोजपुरी फिल्म के निर्देशक श्री धर्मवीर भारती ने किया है ओ सचमुच अविस्मरणीय है। जिव्तिया पर्व पे आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म “जिउतिया : The Cultural city Daudnagar’s festival” (जो कि इस वर्ष जिव्तिया पर्ब के शुभ अवसर पे रिलीज़ होनी है), का निर्देशन तथा प्रोडक्शन खुद भारती जी ने किया है।

इस फिल्म का प्रोमो वीडियो तैयार कर लिया गया है और भारती जी ने उस प्रोमो वीडियो को कला, संस्कृति एवं युवा मंत्री श्री शिवचंद्र राम के समक्ष पटना में प्रस्तुत किया। प्रोमो वीडियो देख कर मंत्री जी काफी प्रभावित हुए। उनके साथ साथ कला, संस्कृति एवं युवा विभाग, बिहार के Personal Secreyary श्री विनय कुमार ने भी प्रोमो वीडियो को देखा। दोनों को ही जिव्तिया पे आधारित फिल्म काफी पसंद आया। भारती जी के मुताबिक मंत्री जी कुछ कुछ सीन को बार बार देख रहे थे।

मंत्री जी आश्चर्यकित थे यह जानकर कि पटना से महज 120 km की दुरी पर स्थिय बिहार के एक छोटे से शहर में इस प्रकार की संस्कृति भी मौजूद है। उन्होंने जिव्तिया पर्व से प्रभावित हो कर जिव्तिया महोत्सव आयोजित करने का विचार भी रखा तथा हर संभव सहयोग का आश्वाशन भी दिया। उम्मीद ऐसी भी है कि फिल्म के रिलीज़ के समय मंत्री जी दाउदनगर उपास्थित भी हो सकते हैं।

मैं दाउदनगर की जनता की तरफ से भारती जी का उनके प्रयास के लिए शुक्रगुजार हूं। उन्होंने एक अहम् भूमिका निभाई है दाउदनगर की पहचान को और भी लोकप्रिय बनाने में। भरती जी दिल के बहुत अच्छे इंसान हैं और उनकी शालीनता इस प्रकार समझा जा सकता है कि एक प्रसिद्ध व्यक्ति होने के बावजूद लोगों से आसानी से घुल मिल जाते हैं। युवाओं को इनके व्यक्तित्व से सीखना चाहिये कि आप चाहे जो भी बन जाएं दिल में कभी घमंड पैदा न करें।

सम्मान किसी से माँगा नहीं जाता बल्कि सम्मान अपने व्यक्तित्व से कमाया जाता है।

Leave a Reply